मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 | Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022

Share on Social media
मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022: (Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha 2022) मैं आपको बता दूं कि समय पर हमारी जितनी भी पूरी दुनिया है, उन सभी में सड़क दुर्घटना के कारण बहुत ज्यादा मृत्यु हो जाती है। और मृत्यु हो जाने वाले जो भी लोग हैं उन सभी की संख्या भारत में सबसे ज्यादा है। और इसका मुख्य कारण यह है कि दुर्घटनाग्रस्त कि सही समय पर अस्पताल ना हो जाना।

और अस्पताल ले जाने के कारण उन सभी दुर्घटना स्थल पर जितने भी लोगों को मिलती होती है, वह वही मर जाते हैं। और अस्पताल ना होने के कारण इस बिंदु का ध्यान में रखते हुए और इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए हमारे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने अपने राज्य में मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना की आरंभ किया है |

आपको बता दे की हमारा OFFICIAL TELEGRAM चैनल और WHATSAPP GROUP मे रोजाना सरकारी भर्ती और निजी भर्तीओ के बारे मे हम सबसे पहले और सबसे सटीक जानकारी प्रदान करते है। तो कृपा हमारे साथ जुड़े जिससे आपको सहायता मिलेगे।

राजस्थान सरकार ने सड़क दुर्घटना पीड़ितों को अस्पताल ले जाने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना शुरू की है। । सड़क दुर्घटना के शिकार लोगों को अस्पताल ले जाकर जान बचाने वाले अच्छे लोगों को 5,000/- Rs. का राज्य सरकार  इनाम देगे। बिल्कुल राजस्थान राज्य की तरह, दिल्ली सरकार मई 2018 से पहले से ही एक नकद इनाम योजना चला रहा है, जिसके तहत सड़क दुर्घटना के शिकार लोगों को अस्पताल ले जाने वाले लोग 2,000/- रुपये पाने के हकदार हैं। साथ ही किसी भी सड़क पीड़ित को दुर्घटना के बाद 72 घंटे तक मुफ्त इलाज मिलेगा।

इस योजना की विशेषता यह है कि देश के किसी भी राज्य का नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे में घायल हुए नागरिक को अस्पताल पहुंचाता है तो वह इस योजना के तहत इनाम राशि प्राप्त करने का हकदार हैं। Mukhymantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 से जुड़ी ओर अधिक जानकारी जैसे -उद्देश्य, लाभ एवं विशेषताएं, इनाम राशि प्राप्त करने के लिए आवेदन प्रक्रिया आदि जाने  के लिए हमारे इस लेख को नीचे तक अवश्य पढ़ें।

Page Contents

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022: (Mukhyamantri  Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022)

राजस्थान राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 16 सितंबर को मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया था। इस योजना के तहत राजस्थान में सड़क हादसे में घायल हुए नागरिकों को जो लोग अस्पताल पहुंचाते हैं। उन्हें सम्मान के रूप में 5000 रुपये का इनाम एवं एक सशस्त्र पत्र दिया जाता है। इसके अलावा घायल व्यक्तियों को अस्पताल पहुंचाने वाले से पुलिस पूछताछ भी नहीं करेगी। प्रदेश सरकार का Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana को शुरू करने का मुख्य लक्ष्य एक ही है, कि सड़क हादसे में घायल हुए नागरिकों को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाया जा सके ताकि उन्हें सही समय पर इलाज मिल सके और उनकी जान बच सकें।

डब्ल्यूएचओ(WHO) की एक रिपोर्ट के मुताबिक अगर सड़क दुर्घटनाओं में घायल होने वाले नागरिकों को सही समय पर इलाज दिया जा सकेगा। तो 50 फीसद (50%) सड़क दुर्घटनाओं से होने वाली मौतों से बचा जा सकता है। इसके अलावा गुड सेमेरिटन को सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा। इस लेख में हम आपको सीएम चिरंजीवी जीवन रक्षक योजना की पूरी जानकारी के बारे में बताएंगे।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 विवरण: (Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 Details)

योजना का नाम:मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022
शुभारंभ किया गया:मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्रारा
उद्देश्य:सड़क दुर्घटनाग्रस्त घायल को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाया जा सके
लाभार्थी:सड़क दुर्घटनाग्रस्त घायल को अस्पताल पहुंचाने वाले लोग
आरंभ दिनांक:16 सितंबर (16/09/2022)
वर्ष:2022
राज्य:राजस्थान
योजना श्रेणी:राजस्थान सरकारी योजना
इनाम राशि:5000 रुपये और प्रशस्ति पत्र
आवेदन प्रक्रिया:ऑफलाइन
इनाम प्राप्त करने हेतु संपर्क करें:कैजुअल्टी मेडिकल ऑफिस
ओफिशल वेबसाइट:chiranjeevi.rajasthan.gov.in/#/home
Join Telegram ChannelClick Here

क्या सड़क दुर्घटना से होने वाली मौतों को रोका जा सकता है?

आपको बता दें कि इस योजना यानि की मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि देश के किसी भी राज्य के नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे मगर वह घायल हो जाते तो वह नागरिक को अस्पताल पहुंचाया जाता है। और पहुंचाने वाले को इस योजना के अंतर्गत इनाम की राशि दी जाती है, और वही नाम के राशि के हकदार होते हैं।

Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 और इससे जुड़ी सारा जानकारी के लिए आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पड़े जिससे आपको भी इस योजना का उद्देश्य क्या है, इसका लाभ क्या है, इसकी विशेषताएं क्या है, इसमें इनाम राशि प्राप्त करने के लिए आप कैसे आवेदन की प्रक्रिया करेंगे। कृपा आगे पढे।

पुरस्कार प्राप्त करने हेतु कैजुअल्टी मेडिकल ऑफिसर से संपर्क करना होता है

अगर राजस्थान में कोई नागरिक सड़क दुर्घटना में घायल हुए व्यक्ति को अस्पताल लेकर जाता है। एवं उसका इलाज करवाता है। तो उस नागरिक को Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana के तहत पुरस्कार राशि प्राप्त करने के लिए इस बात की पूरी जानकारी कैजुअल्टी मेडिकल ऑफिसर को देनी होगी।

CMO द्रारा व्यक्ति का नाम, सही पता, मोबाइल नंबर एवं बैंक डिटेल्स प्राप्त की जाएगी। सभी जानकारी प्राप्त करने के पश्चात इस बात की पुष्टि की जाती है। कि घायल व्यक्ति को किस अस्पताल लाया गया है, उसकी हालत गंभीर है या नहीं। या उसे इलाज मिला या नहीं आदि। यदि क्लेम करने वाले नागरिक की सभी बातें सही होती है। तो इस स्थिति में CMO द्रारा उसे 5 हजार रुपये की पुरस्कार राशि और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाता है।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 के अंतर्गत पात्रता:

  • देश के किसी भी आज का नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे में घायल हुए नागरिक को अस्पताल पहुंचाता है वह इस योजना के अंतर्गत इनाम राशि प्राप्त होने के पात्र है।
  • किसको लाभ नहीं मिलेगा: सरकारी प्राइवेट एंबुलेंस पुलिस की पीसीआर(PCR) वैन और ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों इस योजना का लाभ उठाने के पात्र नहीं है।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 की विशेषताएं:

  • राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत जी ने 6 सितंबर 2021 को मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया था।( Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022)
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के सड़क हादसे में घायल हुए लोगों को सहायता करने वालों को पुरस्कार राशि भी दिया जाता है।
  • इस योजना की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि जैसे किसी भी राज्य का नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे में घायल हुए नागरिक को अस्पताल पहुंचाया जाता है और वह इस योजना के तहत नहीं नाम की राशि को प्राप्त कर सकता है उसके हकदार भी है।
  • राजस्थान की राज्य में अगर सड़क दुर्घटना में होने वाला वहां मौजूद अगर कोई भी नागरिक की बिना किसी कानूनी डर के घायलों को बेफिक्र होकर अस्पताल पहुंचा सकते हैं।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 के लाभ:

  • मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना का लाभ उन व्यक्तियों को मिलेगा जो राजस्थान के सड़क दुर्घटना में घायल होने वाले व्यक्तियों का अस्पताल पहुंचाएंगे।
  • अब राजस्थान में सड़क दुर्घटना के समय घायलों को अस्पताल तक पहुंचाने वाले को किसी भी कानूनी कार्रवाई की सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • दुर्घटनाग्रस्त व्यक्तियों को जल्द से जल्द अस्पताल ले जाया जा सकेगा जिससे कि उन्हें सही समय पर उपचार मिल सकेगा और उनकी जान बच सकेगी।
  • Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 के माध्यम सड़क हादसे में घायल होने वाले व्यक्तियों का अस्पताल तक पहुंचने पर ₹5000 का इनाम राशि और एक सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा।
  • एंबुलेंस पुलिस और पीसीआर वैन और ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को इस योजना का लाभ नहीं मिलता है।
  • यह योजना राज्य में सड़क दुर्घटना के कारण बढ़ती हुई मृत्यु दर को भी काम करने में बहुत ज्यादा मदद करेगी।

आपको बता दे की हमारा OFFICIAL TELEGRAM चैनल और WHATSAPP GROUP मे रोजाना सरकारी भर्ती और निजी भर्तीओ के बारे मे हम सबसे पहले और सबसे सटीक जानकारी प्रदान करते है। तो कृपा हमारे साथ जुड़े जिससे आपको सहायता मिलेगे।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 का उद्देश्य:

हम आपको बता दें कि हमारे देश में अधिकतर देखा गया है कि सड़क दुर्घटना के कारण वहां पर मौजूद लोग दुर्घटना में घायल हुए लोगों को कानूनी कार्रवाई के डर के वजह से अस्पताल ले जाने में डरते हैं। और ले जाने में नहीं चाहते हैं, और इसी बात को ध्यान में रखते हुए राजस्थान के सरकार के द्रारा अपने राज्य में मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना को आरंभ किया गया है। और इस योजना के अंतर्गत जितने भी सड़क दुर्घटना के होगा और उनसे घायल सभी लोगों को सही समय पर अस्पताल पहुंचाया जाएगा जो पहुंच आएगा उसको 5000 Rs. की राशि दी जाएगी। और प्रशस्ति पत्र देकर उन्हें इनाम के तौर पर दिया जाएगा।

सरकार के द्रारा दी जाने वाली 5000 Rs. की राशि उन्हें सम्मानित करते हुए इनाम के रूप में दी जाती है। Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022 को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य है कि सड़क दुर्घटना स्थल पर जो भी लोग मौजूद होंगे वह घायल व्यक्तियों को जल्द से जल्द वहां पर से मौजूद व्यक्ति उसको समय पर अस्पताल पहुंचा सके।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कैसे करें? (How to apply Mukhyamantri Chiranjeevi Jeevan Raksha Yojana 2022)

  • प्रथम आपको सड़क दुर्घटना में घायल हुए नागरिक को अस्पताल पहुंचाने के पश्चात संबंधित अस्पताल में तैनात कैजुअल्टी मेडिकल ऑफिसर को अपनी पूरी एवं सही जानकारी दर्ज करवानी होगी।
  • आपको अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर और बैंक डिटेल्स दर्ज आदि की जानकारी भरवानी होगी।
  • आपकी सभी जानकारी दर्ज करने के पश्चात CMO अस्पताल में लाए हुए घायल व्यक्ति के इलाज के अनुसार एक रिपोर्ट तैयार करेंगे।
  • व्यक्ति को जब अस्पताल लाया गया उसकी हालत कितनी गंभीर थी।
  • उसे तुरंत इलाज मिला या नहीं।
  • और उसकी अब क्या स्थिति है आदि।
  • CMO द्रारा तैयार की गई यह रिपोर्ट डायरेक्ट पब्लिक हेल्थ के पास भेजी जाएगी।
  • यदि आपके माध्यम किया गया क्लेम सही पाया जाता है।
  • तो आपको 5000 रुपये की पुरस्कार राशि और प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा।
  • पुरस्कार राशि क्लेम अप्रूव होने के 2 दिन के अंदर लाभार्थी के बैंक खाते में हस्तांतरित की जाती है।
  • और प्रशस्ति पत्र लाभार्थी के पते पर स्पीड पोस्ट के द्रारा से भेजा जाता है।

Important Links: (महत्वपूर्ण लिंक)

Join Telegram Group:

Official Website:  

Join Whats App Group:

FAQ:

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 क्या है?

राजस्थान मे सड़क हादसे में जितने भी लोग घायल होते हैं, उन सभी लोगों को जो लोग अस्पताल पहुंचाते हैं, उन्हें सम्मान के रूप में Rs. 5000/- सम्मान राशि दी जाती है और एक सशस्त्र पत्र भी उनको दिया जाता है।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना का उद्देश्य क्या है?

इस योजना के अंतर्गत सड़क दुर्घटना से होने वाली मौत को कम करना सबसे पहला उद्देश्य है। साथ ही अस्पताल ले जाने वालो को राजस्थान सरकार की और से 5000/- Rs. इनाम के रूप मे मिलेगे।

Mukhymantri Chirenjivi Jivan Raksha Yojana 2022 की विशेषताएं क्या है?

इस योजना की विशेषता यह है कि देश के किसी भी राज्य का नागरिक राजस्थान में सड़क हादसे में घायल हुए नागरिक को अस्पताल पहुंचाता है तो वह इस योजना के तहत इनाम राशि प्राप्त करने का हकदार हैं।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 के लाभ क्या है?

सड़क दुर्घटना के समय घायलों को अस्पताल तक पहुंचाने वाले को किसी भी कानूनी कार्रवाई की सामना नहीं करना पड़ेगा। और साथ ही 5000/- Rs. इनाम के तौर पर मिलेगे।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी जीवन रक्षा योजना 2022 का लाभ किसको नहीं मिलेगा?

सरकारी प्राइवेट एंबुलेंस पुलिस की पीसीआर(PCR) वैन और ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों इस योजना का लाभ उठाने के पात्र नहीं है।

अन्य पढे:

होम पेजClick Here

Leave a Comment

Your email address will not be published.